फेसबुक ने शिवनाथ ठुकराल को सौंपा अंखी दास का काम, टाइम पत्रिका ने किया बीजेपी के करीबी होने का दावा

फेसबुक की भारत में पब्लिक पॉलिसी हेड रहीं अंखी दास ने हाल ही में इस्तीफा दे दिया है, सत्तारुढ़ भाजपा के लिए पक्षपात करने के आरोपों में घिरने के बाद अंखी दास सुर्खियों में आई थीं।

वहीं अब टाइम पत्रिका ने दावा किया है कि फेसबुक ने भाजपा के करीबी माने जाने वाले शिवनाथ ठुकारल को अंखी दास का काम सौंप दिया है। ठुकराल अभी व्हट्सएप के पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर हैं। हालांकि कंपनी की ओर से इसको लेकर कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। 

टाइम पत्रिका ने दावा किया है कि ठुकराल पहले भी दो साल तक भारत और दक्षिण एशिया के लिए फेसबुक के पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर के तौर पर काम कर चुके हैं।

टाइम के अनुसार ठुकराल 2014 के आम चुनाव के समय से बीजेपी से जुड़े रहे थे। उस दौरान जब एक बीजेपी नेता के विवादित पोस्ट को लेकर मीटिंग हुई थी, तो वह उसके बीच से ही उठकर निकल गए थे। इसके बाद उसे हेट स्पीच का दर्जा दिए जाने के बाद भी हटाया नहीं गया और एक साल तक प्लैटफॉर्म पर बनी रही।

बता दें कि आंखी दास पर भी बीजेपी का पक्ष लेने के आरोप लगे थे। उन पर भी हेट स्पीच के मामले में कोई एक्शन नहीं लेने के आरोप लगे थे। उन्हें इस मामले के तूल पकड़ने के बाद संसद की एक समिति ने पेश होने के लिए भी बुलाया था। इस बीच अचानक 27 अक्टूबर को उन्होंने फेसबुक के टॉप एग्जिक्यूटिव पद से अपना इस्तीफा दे दिया था। हालांकि फेसबुक ने कहा है कि दास के इस्तीफे का हेट स्पीच वाले मामले से कोई लेना देना नहीं है।

इधर कयास लगाए जा रहे हैं कि अंखी दास बीजेपी में शामिल हो सकती हैं। सोशल मीडिया पर भी चर्चा है कि अंखी बीजेपी में शामिल होंगी और उनके जरिए बीजेपी पश्चिम बंगाल के चुनाव में फायदा उठाने की कोशिश करेगी।

0 comments

Leave a Reply