तेजस्वी यादव ने किया नीतीश कुमार पर तीखा प्रहार...

मुख्यमंत्री के आक्रोश का तेजस्वी ने दिया जवाब कही ये बातें

तेजस्वी यादव

पटनाः बिहार विधान सभा के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन राज्यपाल के अभिभाषण के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी.भारी शोर-शराबे के बीच तेजस्वी यादव के आरोपों से बौखलाये मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी पर जवाबी हमला करते हुए कहा कि हम अब तक चुप थे, यह हमारे बेटा के समान है. 
इसके बाप हमारे उम्र के हैं. ये बकवास कर रहा है,ये झुठ बोलता है. गुस्से में नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि तुमको डिप्टी सीएम किसने बनाया था. आप चार्जशीटेड हो, तुम क्या करते हो हम सब जानते हैं. 2017 में घोटाले के आरोप लगे थे तो क्यों नहीं एक्सप्लेन किये थे? सारे लोग तुम्हारा एक-एक बात जानते हैं.मुख्यमंत्री के इस जवाबी हमले पर तेजस्वी यादव ने जवाब देते हुए उनसे इस्तीफे की मांग कर दी.
मुख्यमंत्री के आक्रोश का तेजस्वी ने दिया जवाब कही ये बातें
सदन में मुख्यमंत्री के तेजस्वी पर प्रहार के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि पहला इतना छोटा राज्यपाल का अभिभाषण था. प्रधानमंत्री से मुख्यमंत्री तक मेरे जैसे 31 साल के लडके के पीछे लगे रहे. मेरा क्या क्या नाम दिया इनलोगों ने. जनता ने हमें जनादेश दिया और ये सरकार चोर दरवाज़े से आयी है. 
मुख्यमंत्री के सामने सूचिता की बात आती है तो हमने हमेशा उनका सम्मान किया है,उन्हें चाचा कह कर सम्बोधित किया है, मगर उन्होने क्या कहा मेरे माता पिता के बारे में कि बेटे की चाह में बेटियां पैदा करते रहे. 
हमारे दो भाई के बाद एक बहन भी है. मैने तो उन्हीं के बातों को कहा की एक पुत्र के बाद उन्होने कोई बच्चा पैदा नही किया की कहीं उन्हे बेटी ना हो जाये. 
मुख्यमंत्री आग बबूला हुए मैने तो 1991 के केस के बारे में कहा था,आप मुख्यमंत्री थे इस्तीफा देकर जांच कराते. अभी भी कह रहा हूँ सृजन घोटाले में सी बी आई जांच की अनुसंशा कर इस्तीफा दे दें नीतीश कुमार. मुझ पर आरोप लगे तो मुझसे इस्तीफा मांगा अब उनकी बारी है वो भी इस्तीफा दें. पिता लालू यादव के वायरल ऑडियो पर तेजस्वी ने कहा कि ऑडियो तो बहुत लोगों के वायरल होते हैं,मुझे उसमे कुछ नही कहना है.
बेटे तेजस्वी पर मुख्यमंत्री के हमले से बौखलाई राबड़ी देवी ने कही ये बातें
सदन में मुख्यमंत्री द्वारा बेटे तेजस्वी पर किए गए हमले से नाराज पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कहा कि सदन में विपक्ष को दबाया जाता है. मुख्यमंत्री 15 साल से एक ही भाषण देते रहे हैं.नीतीश कुमार पागल हो कर गुस्साये हैं. जनमत की बात करें तो उनको विधान सभा में 43 आया और हमलोगों को 75 आया. उनको कौन जानता था.जनता ने इनको लात मारी है,सरकार तो हमारी बनती लेकिन इनकी घपलेबाजी से आज ये गद्दी पर बैठे हैं.
 इसके बाद नीतीश कुमार गुस्से में अपनी जगह से उठे और कहा "जो बात ये बोल रहा है उसकी जांच होनी चाहिए और इसके खिलाफ कार्रवाई होगी. ये झूठ बोल रहा है. मेरे भाई समान दोस्त का बेटा है, इसीलिए मैं सुनता रहता हूं. इसके पिता को विधायक दल का नेता किसने बनाया था क्या उसको पता है? 
इसको उपमुख्यमंत्री किसने बनाया था इसको पता है ? इसके ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगा तो हमने उससे कहा कि जवाब दो, मगर जब जवाब नहीं दिया तो हम अलग हो गए. हम कुछ नहीं बोलते हैं. तेजस्वी पर चार्जशीट है. 2017 में क्यों नहीं स्थिति स्पष्ट किया था ?" 
नीतीश कुमार आग बबूला होकर बोले इसके बाद सदन के अंदर जमकर हंगामा मचा और स्पीकर ने विधानसभा की कार्यवाही को स्थगित कर दिया

0 comments

Leave a Reply