हरियाणा-गुजरात में स्कूल-कॉलेज खुले, जानिए पंजाब समेत किन राज्यों में अगले हफ्ते से चलेंगी कक्षाएं

School-College Opens : ज्यादातर राज्य सरकारों ने फिलहाल 50 फीसदी क्षमता के साथ ही पढ़ाई कराने का निर्णय किया है, यानी किसी छात्र को हफ्ते में 3 दिन ही विद्यालय आना होगा, लेकिन स्कूल आने के लिए अभिभावकों की सहमति अनिवार्य होगी.

नई दिल्ली: School-College News : देश के कई राज्यों में कोरोना के रोजाना के मामले (Daily Corona Cases) 100 से भी कम होने के बाद स्कूल-कॉलेज खोलने (School College Opens) का फैसला किया गया है. गुजरात (Gujarat) और हरियाणा में तो अध्यापन कार्य पिछले हफ्ते से शुरू भी हो गया है. कई अन्य राज्य भी अगले हफ्ते या अगस्त के पहले सप्ताह से स्कूल-कॉलेज और तकनीकी संस्थानों को खोलने की तैयारी कर रहे हैं. ज्यादातर राज्य सरकारों ने फिलहाल 50 फीसदी क्षमता के साथ ही पढ़ाई कराने का निर्णय किया है, यानी किसी छात्र को हफ्ते में 3 दिन ही विद्यालय आना होगा, लेकिन स्कूल आने के लिए अभिभावकों की सहमति अनिवार्य होगी.

जानिए किस राज्य ने क्या फैसला लिया है...

  1. हरियाणा सरकार ने 9 से 12वीं कक्षा तक के स्कूल (Haryana Schools)तो 16 जुलाई से खुल गए हैं. जबकि 6 से 8वीं क्लास तक के विद्यालय 23 जुलाई से खुलेंगे. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की सरकार कक्षा एक से लेकर 5वीं तक के लिए स्कूल खोलने पर भी विचार करेगी. छोटी कक्षाओं के हरियाणा के  स्कूलों पर अगले माह फैसला हो सकता है.

  2. पंजाब में 26 जुलाई से 10वीं से 12वीं क्लास के लिए स्कूल खुलेंगे. हालांकि स्कूल आने के लिए बच्चों को अभिभावकों की मंजूरी लेनी होगी. मामले ऐसे ही रहे तो अगस्त से बाकी कक्षाएं चलाने की अनुमति भी दी जा सकती है.

  3. दिल्ली सरकार ने फिलहाल स्कूलों को न खोलने का फैसला किया है. केजरीवाल सरकार का कहना है कि जब तक वैक्सीनेशन पूरा नहीं हो जाता, तब तक कोई जोखिम नहीं लिया जा सकता. हालांकि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने राजधानी के स्कूलों में प्रशिक्षण और बैठक के उद्देश्य के लिए ऑडिटोरियम और सभा भवनों को खोलने की अनुमति दे दी है. 

  4. छत्तीसगढ़ सरकार ने 2 अगस्त से स्कूल औऱ कॉलेज खोलने का निर्णय किया है. राज्य के कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में सत्र 2021-22 के लिए दो अगस्त से पढ़ाई शुरू होगी. रोजाना 50 फीसदी छात्र स्कूल-कॉलेज आएंगे और छात्रों को 3 दिन ही विद्यालय आना होगा. हालांकि बाकी दिनों के लिए ऑनलाइन क्लास भी जारी रहेंगी. सभी आईटीआई, मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, पॉलिटेक्निक भी खोले जाएंगे. 

  5.  मध्य प्रदेश सरकार भी 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए स्कूल और कॉलेज 26 जुलाई से खोलने का ऐलान कर चुकी है. रोजाना 50 फीसदी क्षमता के साथ स्कूल-कॉलेज खोलकर कक्षाएं शुरू होंगी. छात्रों का एक बैच पहले दिन और दूसरा अगले दिन स्कूल जाएगा. स्कूल शुरुआत में हफ्ते में 4 दिन और फिर 6 दिन चलाने की तैयारी है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का कहना है कि 15 अगस्त तक हालात सामान्य रहे तो अन्य कक्षाओं के लिए भी पढ़ाई शुरू कराने की तैयारी है.  एमपी में रोजाना 20 से कम केस आ रहे हैं. 

  6. गुजरात में 15 जुलाई से 12वीं के छात्रों के लिए कक्षाएं शुरू हो गई हैं. कॉलेजों और तकनीकी संस्थान भी 50 फीसदी क्षमता के साथ शुरू हो गए हैं. हालांकि विद्यार्थियों के लिए क्लास में उपस्थिति होना अनिवार्य नहीं होगा. स्कूल और कॉलेज के अधिकारियों को अभिभावकों की सहमति लेनी होगी.

  7. महाराष्ट्र में बोर्ड ने 10वीं के नतीजे तो घोषित कर दिए हैं, लेकिन स्कूल-कॉलेज खोलने पर कोई फैसला नहीं है. बोर्ड के नतीजों में 99.95 फीसदी छात्र पास हुए हैं. आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर परिणाम घोषित किए गए. महाराष्ट्र में कोरोना के मामले रोजाना 6-7 हजार के करीब रह गए हैं, लेकिन वो अभी देश के कोरोना प्रभावित टॉप 5 राज्यों में है.

  8. कई राज्य 10वीं और 12वीं क्लास के स्कूलों को खोलने के लिए CBSE बोर्ड के नतीजों का भी इंतजार कर रहे हैं. सीबीएसई बोर्ड पहले ही  संबद्ध स्कूलों को कह चुका है कि वो 12वीं के छात्रों के लिए समयबद्ध तरीके से मूल्यांकन पूरा कर 31 जुलाई तक परिणाम घोषित करें. 10वीं के नतीजे भी कभी भी घोषित किए जा सकते हैं. 

  9. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने सभी यूनिवर्सिटी (University) में नया सत्र 1 अक्टूबर से शुरू करने का फैसला लिया है. एंट्रेस 30 सितंबर तक पूर हो जाएगा. सभी विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षा संस्थानों (Higher Education Institute) को कहा गया है कि ग्रेजुएट कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया सीबीएसई (CBSE) , आईसीएसई (ICSE) और सभी राज्य बोर्डों के परीक्षा परिणाम (Exam Results) घोषित होने के बाद ही प्रारंभ की जाएं. 

 

0 comments

Leave a Reply