गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड: SC ने कहा- दिल्ली में कौन आएगा पुलिस तय करे

 

नई दिल्ली। 26 जनवरी को दिल्ली में होने वाली किसान ट्रैक्टर परेड को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को कोई फ़ैसला नहीं दिया। सुनवाई के दौरान सीजेआई एसए बोबडे ने कहा कि दिल्ली में आने का सवाल क़ानून व्यवस्था से जुड़ा है और पुलिस को ही इस बारे में फ़ैसला लेना होगा। इस पर केंद्र सरकार की ओर से पेश हुए अटार्नी जनरल ने कहा कि इतने लोगों का आना अवैध होगा। 

सीजेआई ने अटार्नी जनरल से कहा कि क़ानून के मुताबिक़ आपको अपनी ताक़तों का इस्तेमाल करने की पूरी आज़ादी है। उन्होंने कहा कि हम यह कह चुके हैं कि दिल्ली में आने की इजाजत किसे हो और किसे नहीं और आने वालों की कितनी संख्या हो, ये सब मामले क़ानून व्यवस्था से संबंधित हैं और इन्हें दिल्ली पुलिस को ही देखना चाहिए। 

सीजेआई ने कहा कि इस मामले में अदालत के दख़ल को ग़लत ढंग से समझा जा रहा है और हमने पूरे मामले को हाथ में नहीं लिया है। अटार्नी जनरल ने कहा कि इससे पहले ऐसे हालात कभी नहीं बने। सीजेआई ने कहा कि अब इस मामले में बुधवार को सुनवाई होगी और कोई दूसरी बेंच इसे सुनेगी। 

दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कहा किसान ट्रैक्टर परेड पर रोक लगाने की मांग की थी। पुलिस का कहना है कि परेड होने से गणतंत्र दिवस समारोह के आयोजन में अड़चन आएगी। दूसरी ओर, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक बार फिर कहा है कि सरकार किसानों की बात सुनने को तैयार है, लेकिन क़ानूनों को रद्द नहीं किया जा सकता। 

किसानों ने कहा है कि वे दिल्ली की बाहरी रिंग रोड पर ट्रैक्टर परेड निकालेंगे और गणतंत्र दिवस समारोह में किसी भी तरह की रुकावट पैदा नहीं करेंगे। 

किसान नेताओं ने शनिवार शाम को एक बार फिर कहा कि उनका प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहेगा। किसान आंदोलन में शामिल स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा, ‘किसान गणतंत्र दिवस को पूरे जोश के साथ मनाएंगे। हमारी ट्रैक्टर परेड दिल्ली की बाहरी रिंग रोड पर होगी और यह जनकपुरी, मुनिरका, नेहरू प्लेस आदि इलाक़ों से जाएगी।’ 

हरियाणा के किसान संगठनों ने कहा है कि राज्य के 7 हज़ार गांवों से 1 लाख ट्रैक्टरों की भागीदारी होगी। बीते कुछ दिनों से सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर किसान ट्रैक्टर परेड को लेकर जोरदार तैयारियां चल रही हैं और लोगों की भीड़ भी बढ़ती जा रही है। 

 

0 comments

Leave a Reply