डा0 कल्बे सादिक़ आईसीयू में भर्ती, हालत नाज़ुक

 

 

लखनऊ | ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मौलाना कल्बे सादिक उनकी स्थिति चिंताजनक बनी हुवी है | आपको बता दें कि क़ौम व मिल्लत की इस अज़ीम हस्ती को दुनिया हकीम ए उम्मत के नाम से भी जानती है |
 3 रोज़ पहले शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक साहब की तबीयत बिगड़ने पर मंगलवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनके बेटे कल्बे सिब्तैन नूरी ने बताया कि एरा हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने निमोनिया होना बताया है। 

चूँकि वह पहले से बीमार है इसको ध्यान में रखकर डाकटर उनका उचित उपचार कर रहे हैं |फिलहाल उनकी हालत नाजुक है और उन्हें एरा अस्पताल के आईसीयू में रखा गया है। कल्बे नूरी ने सभी से उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए दुआ करने की अपील की है।नूरी ने बताया कि उनके पिता को सांस लेने में तकलीफ हो रही है। कोविड 19 जांच रिपोर्ट में उनमें इस संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है।उनके रक्तचाप और ऑक्सीजन के स्तर में लगातार गिरावट होने पर उन्हें मंगलवार की शाम आईसीयू में दाखिल किया गया था।

उन्होंने बताया कि हालांकि मौलाना कल्बे सादिक की स्थिति गंभीर है मगर उसमें और गिरावट नहीं आयी है। गौरतलब है कि ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष मौलाना कल्बे सादिक पूरी दुनिया में अपनी उदारवादी छवि के लिये जाने जाते हैं। 

कुछ माह पूर्व Feb 2020 की बात है CAA NRC को लेकर पूरी दुनिया में धरना प्रदर्शन हो रहा था वहीं पुराने लखनऊ स्थित 4 लोगों ने धरना देना शुरू किया | योगी सरकार की बर्बर कारवाही से आहात हो कर हकीम उम्मत डॉकटर कल्बे सादिक़ बेटियोँ का दर्द बाटने घंटाघर पहुचें |

बता दें कि मौलाना कल्बे सादिक ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का विरोध किया था। उन्होंने कहा था कि यह देश संविधान से चलेगा। कोई नरेंद्र मोदी कोई अमित शाह हमारा भविष्य नहीं बना सकता। उन्होंने लखनऊ के घंटाघर में प्रदर्शन कर रही महिलाओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा था कि आज हर घर में उजाला दिखाई दे रहा है पर घंटाघर का अंधेरा इस सरकार को नहीं दिखाई दे रहा है।

उन्होंने कहा था कि सीएए और एनआरसी काला कानून है इसे वापस लिया जाना चाहिए।मौलाना डाक्टर कल्बे सादिक़ साहब के लिये दुनिया भर में दुआओं का दौर जारी । ईरान , इराक़ , यूरोप , अमेरिका , दुबई , ख़लीज हर जगह डाक्टर साहब के अक़ीदत मंद दुआएं कर रहे हैं । भारत में भी हर धर्म और सम्प्रदाय के लोग दुआ और प्राथना कर रहे हैं ।

 

0 comments

Leave a Reply