राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री ने कहा- 23 मई मोदी की विदाई का दिन होगा

Asia Times Desk

दिल्ली :  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने चुनाव प्रचार में बड़ी चतुराई से भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बोलने से बच रहे हैं लेकिन 23 मई उनकी विदाई का दिन होगा। राहुल ने पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में रैली करते हुए सभी गरीबों के बैंक खातों में 15 लाख रुपये डालने और दो करोड़ नौकरियों के सृजन जैसे मोदी के वादों पर भी सवाल उठाए। पाटलिपुत्र से राजद प्रमुख लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती मैदान में हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने लोकसभा चुनाव में भाजपा की हार का दावा करते हुए कहा कि 23 मई को मतगणना के दिन मोदी को पांच साल पहले किए गए वादों को पूरा करने में नाकाम रहने से नाराज लोगों से करारा जवाब मिलेगा।

गांधी ने मोदी के बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार को दिये साक्षात्कार समेत सभी साक्षात्कारों पर तीखा हमला करते हुए कहा मुद्दों से भटकाने के लिये सवाल-जवाब परोसे जा रहे हैं। इन दिनों हम मोदीजी से बस यही सुन रहे हैं कि वह आम कैसे खाते हैं और आधी बाजुओं का कुर्ता क्यों पहनते हैं।

राहुल ने ‘चौकीदार चोर है’ का नारा दोहराते हुए कहा कि मोदी को राफेल सौदे से जुड़े हमारे सवालों के जवाब देने होंगे। उन्होंने अनिल अंबानी को ठेका क्यों दिया। वह लड़ाकू विमानों के लिये पहले से तय राशि से अधिक भुगतान के लिये क्यों सहमत हुए और राफेल का निर्माण भारत में क्यों नहीं कराया गया। उन्हें देश को इन सवालों का जवाब देना होगा।

गांधी ने कहा कि मोदी अपने प्रचार के लिये देशभर में घूम रहे हैं, ‘टेली प्रॉम्पटर’ की मदद से रैलियों को संबोधित कर रहे हैं। वह बड़ी चतुराई से भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बोलने से बच रहे हैं। लेकिन हम उन्हें भागने नहीं देंगे। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उन्हें खुली बहस की मेरी चुनौती अब भी बरकरार है। वह पूरी तरह बेनकाब हो चुके हैं और 23 मई उनकी विदाई का दिन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *