किशनगंज जो अपने मुस्लिम बहुसंख्यक होने की वजह से अक्सर चर्चा में बना रहता है

Positive 2 सीरीज़ की पहली कड़ी : किशनगंज

Ansar Imran SR

Positive 2:- किशनगंज बिहार का एक पूर्वी जिला जो अपने मुस्लिम बहुसंख्यक होने की वजह से अक्सर चर्चा में बना रहता है| तक़रीबन 1884 Sq KM में फैला ये ज़िला जिसकी कुल आबादी 16,90,948 है जिसमें से 68 फीसद आबादी मुस्लिम और 31 फिसद आबादी हिन्दू है| किशनगंज की 90 फीसद आबादी आज भी गाँव में ही बसती है|

इस जिले में 7 ब्लाक, 802 गाँव, 3 municipality हैं| यहाँ का शिक्षा दर भारत और बिहार दोनों के शिक्षा दर के मुकाबले बेहद कम है| कहने को तो किशनगंज का रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन दिल्ली गुवाहाटी हाईवे पर है, करीब में ही बागडोगरा एयरपोर्ट भी है परन्तु ये सिर्फ दिखाने के दांत है अंदर की हालत तो कुछ और ही बयाँ करती है|

जहाँ की आधी आबादी आज भी अनपढ़ हो आप खुद ही समझ सकते है उसे क्यूँ बिहार का सबसे पिछड़ा जिला माना जाता है|

4 मुस्लिम विधायक और एक मुस्लिम मेम्बर पार्लियामेंट होने के बावजूद इस जिले वजूद पानी के ऊपर आयी झाग की तरह है|

पूरी विडियो यहाँ देखें:

यहाँ पर रोजगार का आलम ये है कि ज्यादातर लोग पलायन कर के दुसरे राज्यों में मजदूरी करने जाते हैं| बाकि बचे लोग यहाँ पर खेतों में मजदूरी करते है जिसके बदले में उन्हें खाने लायक अनाज मिल जाता है बस|

बाकी सब खैरियत है!!!

ANSAR IMRAN SR

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *