इराक में भारतीयों की निर्मय हत्या बहुत ही निंदनीय- इंजीनियर उबैदुल्ला

Ashraf Ali Bastavi

नई दिल्ली-तीन साल पूर्व इराक में बंद दायिश दुवारा अपहरण किए गए 39 भारतीय नागरिकों की मौत की दिल दहला देने वाली घटना है खबर से हम सभी भारतीय शोकाकुल हैं और विश्व के सभी शांतिप्रिय लोग अति शोक में हैं। हम इस प्रकार के क्रितज्ञ को आतंकी एवं कुरुर कार्य मानते हुए दाइश की घोर निंदा करते हैं।ये बातें बिहार मुस्लिम युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंजीनियर उबैदुल्लाह ने समाचार पत्रों के नाम बयान जारी करते हुए कहा।श्री उबैदुल्लाह ने कहा कि दाइश एक आतंकी संगठन है और इसके सभी कार्य मानवता के खिलाफ और निंदनीय है।मूसल शहर में 39 भारतीय नागरिकों के हत्या को BJP चुनावी मुद्दा बना रही है क्योंकि पार्टी के पास कोई दूसरा मुद्दा नही है।उन्हों ने कहा कि अगर 9 जुलाई से उपविदेश मंत्री इराक़ में अपहृत भारतीयों को तलाश कर रहे थे तो फिर उनके परिवार वालों को और देश की जनता को सूचना क्यों नहीं दी?
ये एक बड़ा गंभीर प्रशन है। विदेश मंत्री श्रीमति सुषमा स्वराज का लोकसभा में कहना कि मै मिलकर आयी हूँ ये प्रशन चिन्ह खड़ा करता है भारतीय सांसद पर ।उन्हों ने आगे कहा कि आज विश्व आतंकवादी संगठनों से घिरा हुआ है और विश्व की शांति व्यवस्था भंग हो रही है।और ये सभी संगठनों पर वहाँ को सरकार पर लगाम लगानी चाहये की किसी निर्दिश का खून न बहे।भारत विश्व के कई मुख्य धर्मों का आस्था का केंद्र है इसलिए भारत को विश्वशांति के लिए पहले क़दम उठाना होगा तभी विश्व में शांति का स्थापना हो पायेगा। इंजीनियर उबैदुल्लाह ने कहा कि हिन्दू मुस्लिम विवाद से ऊपर उठ कर विश्वशांति के लिए भारत आगे आय। अंत में श्री उबैदुल्लाह इराक में मारे गए सभी भारतीयों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि भारत सरकार उन सभी 39 परिवारों के भरण पोषण के लिए मुअवज़ा एवं पेंशन की व्यवस्था करे और हमारी संवेदनाएं उन परिवारों के साथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *