26/07/2017


हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ताओं पर गैंगरेप का मामला दर्ज, दारोगा की वर्दी फाड़ी

 

उत्तर प्रदेश के बरेली शहर के गणेशनगर में दो पक्षों में विवाद के बाद हिंदू युवा वाहिनी के चार कार्यकर्ताओं के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है.

झगड़े को लेकर पैरवी करने पहुंचे भाजपा और हिंदू युवा वाहिनी के नेताओं के बीच थाने में ही मारपीट हुई और एक दारोगा की कथित रूप से वर्दी फाड़ दी गई.

पुलिस नगर उपाधीक्षक रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि गणेशनगर निवासी दीपक नामक युवक सोमवार को अपने घर में तेज आवाज में संगीत बजा रहा था. दूसरे पक्ष के अविनाश ने अपनी मां के बीमार होने का हवाला देते दीपक से आपत्ति दर्ज कराई. इसे लेकर दोनों के बीच कहासुनी हुई.

उन्होंने बताया कि झगड़े के बाद दीपक ने संगीत बंद कर दिया. आरोप है कि देर शाम अविनाश हिंदू युवा वाहिनी के अपने दो साथियों के साथ दीपक के घर में घुसा और उसकी गैर मौजूदगी में महिलाओं से बदसलूकी की. महिलाओं ने दीपक को सूचना दी तो वह भाई गौरव के साथ घर पहुंचा मगर तब तक आरोपी जा चुके थे.

सजवाण ने बताया कि दीपक और गौरव ने बाद में अविनाश को पकड़ लिया और पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया. इंस्पेक्टर मुकेश कुमार जब अविनाश को लेकर थाने पहुंचे तभी हिंदू युवा वाहिनी के मंडल अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा और महानगर अध्यक्ष पंकज पाठक समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता थाने पहुंच गए.

उन्होंने बताया कि वाहिनी कार्यकर्ताओं ने अविनाश की गिरफ्तारी पर हंगामा किया. इसी बीच, दूसरे पक्ष की पैरवी करने के लिए भाजपा के महानगर अध्यक्ष उमेश कठेरिया थाने पहुंचे. इस पर वाहिनी के नेताओं ने उनसे कथित रूप से अभद्रता की. इसके बाद दोनों पार्टियों के नेताओं में विवाद बढ़ गया और पुलिस अफसरों की मौजूदगी में दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई.

सजवाण ने बताया कि वाहिनी कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर भी हमला किया. सुभाषनगर चौकी प्रभारी मयंक अरोड़ा ने अपनी वर्दी फाड़े जाने का आरोप लगाया है.

उन्होंने बताया कि दारोगा की तहरीर पर हिंदू युवा वाहिनी के मण्डल अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, महानगर अध्यक्ष पंकज पाठक और अविनाश उर्फ अंशू के खिलाफ मारपीट का तथा एक महिला की तहरीर पर इन तीनों तथा अनिल सक्सेना नामक एक अन्य वाहिनी कार्यकर्ता के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है.

जितेंद्र, पंकज और अविनाश को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. गणेशनगर इलाके में एहतियातन पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

मालूम हो कि हिंदू युवा वाहिनी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गठित संगठन है. यह घटना ऐसे वक्त हुई जब उनकी सरकार अपने 100 दिन के कार्यकाल की उपलब्धियां बताने की तैयारियों में जुटी थी.





अन्य समाचार

2
3
4