IMA (Indian Medical Association) गोरखपुर के अध्यक्ष Dr. J P Jaiswal के नाम मसीहुज़्ज़मा अंसारी का खुला पत्र

Ashraf Ali Bastavi

सेवा में,
डॉक्टर जेo पीo जयसवाल
अध्यक्ष, IMA (IndianMedical Association) गोरखपुर, उत्तर प्रदेश

विषय: Dr. Kafeel Khan की गिरफ़्तारी पर IMA और आप का पक्ष जानने के सम्बंध में।

मुझे आशा है कि आप को ये ज्ञात होगा कि Dr. Kafeel Khan जो कि शहर के मशहूर बाल रोग विशेषज्ञ व IMA गोरखपुर के मेंबर हैं, पिछले 6 महीने से भी ज़्यादा समय से जेल में बंद हैं। उनपर बी॰आर॰डी॰ मेडिकल कॉलेज में हुई बच्चों की मौत का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से ज़िम्मेदार होने का आरोप है।

Dr. J P Jaiswal जी, आप IMA गोरखपुर के अध्यक्ष हैं इस नाते मैं आप से कुछ प्रश्न करना चाहता हूँ।

1)क्या आप या IMA इस बात से अवगत है कि Dr. Kafeel Khan अब तक जेल में हैं?
2)क्या आप ने या IMA ने Dr.Kafeel Khan के केस का संज्ञान लिया है कि उन्हें किस आरोप में पिछले 6 महीने से जेल में बंद किया गया है?
3)क्या आप ने या IMA ने कभी अपनी मीटिंग्स का एजेण्डा Dr. Kafeel Khan की रिहाई को लेकर बनाया है?
4)क्या आप की या IMA की ये सांगठनिक या नैतिक ज़िम्मेदारी नहीं बनती है कि Dr. Kafeel Khan जो की IMA के मेंबर हैं कि रिहाई के लिए कोई सार्थक क़दम उठाए?
5)क्या आप ने या IMA ने Dr. Kafeel Khan को संकट के समय अकेला नहीं छोड़ दिया है?
6)Dr. Jaiswal जी, क्या आप ने और IMA ने अपनी ज़िम्मेदारी से बचकर और भागकर एक ग़ैर ज़िम्मेदाराना रवैय्या नहीं अपनाया है?
7)कहीं ऐसा तो नहीं कि किसी विचारधारा के प्रभाव में आकर आप ने और IMA ने कोर्ट के फ़ैसले से पहले ही Dr. Kafeel Khan को दोषी मान लिया है?
8)क्या आप हर मेंबर से सालाना 12000 रुपय इसलिए लेते हैं कि संकट की घड़ी में उसे अकेला छोड़ दें? क्या उसके न्यायिक अधिकार के लिए आप को आवाज़ नहीं उठाना चाहिए?
9)क्या आप को और IMA को ये बात नहीं मालूम कि MCI की Enquiry Committee ने अपनी जाँच में किसी भी डॉक्टर को दोषी नहीं माना है? क्या इस आधार पर आप Dr. Kafeel के पक्ष में खड़े नहीं हो सकते थे?
10)Dr. Jaiswal जी, क्या Dr. Kafeel Khan जो कि IMA के मेंबर हैं उनका हाल आपने कभी मालूम किया है? क्या उनके घर का हाल मालूम किया? क्या कभी जेल मिलने गए? क्या इस अनैतिक बर्ताव के बाद भी आप को IMA का अध्यक्ष बने रहना चाहिए?

मैं इन सवालों के माध्यम से ये जानना चाहता हूँ कि क्या आप किसी के दबाव में ख़ामोश हैं या फिर आप की अंतरात्मा आप से ये कायरतापूर्ण काम करवा रही है? यदि IMA अपने मेंबर की मदद न करे तो फिर IMA का क्या काम है? या अगर आप अध्यक्ष होकर ख़ामोश हैं तो फिर आप के अध्यक्ष बने रहने की क्या आवश्यकता? जब नैतिकता बोझ बन जाए तो अपने पद से इस्तीफ़ा दे देना चाहिए। Dr. Jaiswal जी, आप को याद होगा कि गुजरात दंगे के बाद जब अटल जी गुजरात दौरे पर गए तो उन्होंने वहाँ के तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री मोदी जी से कहा था कि आप ने राजधर्म का पालन नहीं किया। Dr. Jaiswal जी, मैं आप से बड़ा तो नहीं मगर ये अवश्य कहूँगा कि आपने अपने IMA अध्यक्ष धर्म का पालन नहीं किया। अगर ज़रा भी नैतिक बल हो तो Dr. Kafeel Khan के लिए आवाज़ उठाइए या अपने पद से इस्तीफ़ा दे दीजिए। आप के इस्तीफ़े से Dr. Kafeel की कोई मदद तो नहीं होगी पर जिनके अंदर नैतिकता बची है उन्में उत्साह पैदा होगा।

Dr. Jaiswal जी, मैं आप का नम्बर (7007017188, 9935375511, +91 551 233 6915) सार्वजनिक कर रहा हूँ ताकि मेरे राष्ट्रवादी मित्र आप से कॉल करके ये पूछ सकें कि आप ने IMA का अध्यक्ष होने के नाते Dr. Kafeel Khan के रिहाई और इंसाफ़ लिए आवाज़ क्यों नहीं उठाया।

यदि मेरी कोई बात आप के हृदय को आघात पहुँचाई हो तो क्षमा प्रार्थी हूँ।
धन्यवाद!

मसीहुज़्ज़मा अंसारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *