माह-ए-रमजान के आखिरी जुमे को घरों में हुई अलविदा की नमाज, ईदगाह-मस्जिद रहे सूने, कोविड प्रोटोकॉल का किया पालन

लखनऊ. आज रमजान का आखिरी जुमा था। हर साल आखिरी जुमे पर बाजारों की रौनक बढ़ जाया करती थी। सड़कों पर छोटे-बड़े सभी सफेद कुर्ते पायजामे में नजर आया करते थे, लेकिन इस बार कोरोना संकट के चलते ऐसा नहीं हुआ। पहली बार ऐशबाग ईदगाह में सिर्फ पांच लोगों ने अलविदा की नमाज पढ़ी और कोरोना संकट से जल्द निजात की दुआ मांगी। जिलों में भी लोगों ने अपने अपने घरों में अलविदा की नमाज पढ़ी। शनिवार को चांद का दीदार किया जाएगा। संभवतया 24 मई को पूरे देश में ईद का पर्व मनाया जाएगा।  

धर्मगुरुओं की अपील का दिखा असर

मुस्लिम धर्मगुरु खालिद रशीद फरंगी महली ने ऐशबाग ईदगाह में पांच लोगों को नमाज पढ़ाई। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया। जिस मस्जिद में अलविदा के दिन हजारों की भीड़ हुआ करती थी, आज पूरा कंपाउंड खाली पड़ा हुआ था। हालांकि, धर्मगुरु खालिद रशीद फरंगी महली ने आम लोगों से पहले ही अपील की थी कि कोरोना को देखते हुए लोग अलविदा की नमाज पढ़ने मस्जिदों में न जाएं और न ही एक-दूसरे के घरों पर जाएं। इसका असर भी देखने को मिला। शहर की बड़ी मस्जिदों पर सन्नाटा ही पसरा रहा। 

ईद पर भी रहेगा सन्नाटा

आने वाले दो तीन दिनों में ईद भी आ रही है, लेकिन जो जोश पिछले साल दिखाई पड़ रहा था, वह अबकी बार नहीं दिखाई दे रहा है। अमीनाबाद जहां रातभर गुलजार रहता था, वहीं इस बार बंद ही पड़ा है। लोग भी ईद की खरीदारी के लिए नहीं निकल रहे हैं। धर्मगुरुओं ने भी आमजन से ईद के त्योहार को बहुत सादगी से मनाने की अपील की है। साथ ही गुजारिश की है कि ईद की नमाज भी घर मे ही पढ़ी जाए। कोई भी ईदगाह या अन्य मस्जिदों में नमाज पढ़ने न जाएं।

.......................................................................................................................................................................................................................................................................................................

आज़ाद पत्रकारिता की मदद करें ! अगर आप चाहते  है कि पत्रकारिता कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त हो,और जनता के मुद्दों पर बात करे 'जन पत्रकारिता ' की मदद करें। ज़्यादा नहीं सिर्फ 10 रुपया की राशि  हमें सहयोग करें।

हमारा Google Pay/ Pay TM /Phone Pay  नंबर  9891568632

Asia Times Foundation / Current Account / 000411001015142 / IFSC Code / UTIB0SJCB03


 

0 comments

Leave a Reply