4 से 6 अक्टूबर के बीच अमेठी का दौरा नहीं टालेंगे राहुल गांधी

पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस के नेता अखिलेश सिंह ने कहा कि भाजपा की सरकार राहुल को अमेठी जाने से रोकने के हथकंडे अपना रही है.

Asia Times News Desk

लखनऊ: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी चार से छह अक्टूबर को अमेठी का दौरा करेंगे. हालांकि ज़िला प्रशासन उनसे आग्रह कर चुका है कि वो अपना दौरा पांच अक्टूबर के बाद रखें. अमेठी के डीएम ने इस सिलसिले में कांग्रेस के ज़िलाध्यक्ष को एक खत लिखकर कहा है कि 5 अक्टूबर तक ज़िले का पुलिस बल दशहरे, दुर्गा विसर्जन और मोहर्रम के कार्यक्रमों से जुड़ी सुरक्षा व्यवस्था में व्यस्त रहेगा लिहाज़ा उस समय राहुल गांधी के दौरे के लिए क़ानून व्यवस्था बनाए रखने में दिक्कत होगी. इसलिए राहुल पांच अक्टूबर के बाद दौरा करें. लेकिन कांग्रेस ने राहुल का कार्यक्रम चार से छह अक्टूबर के बीच ही रखने का फ़ैसला किया है.

अमेठी जिला प्रशासन की ओर से जिला कांग्रेस प्रमुख को भेजे गये पत्र में कहा गया है कि कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए अधिकांश पुलिस बल ड्यूटी पर होगा, इसलिए शांति कायम रखने में काफी असुविधा होगी. इसलिए आग्रह है कि इस दौरे का कार्यक्रम पांच अक्टूबर के बाद किसी भी तारीख के लिए पुनर्निर्धारित किया जाए.

पत्र पर अमेठी के जिलाधिकारी योगेश कुमार और पुलिस अधीक्षक पूनम के दस्तखत हैं. इसमें कहा गया कि एक पत्र के जरिए सूचित किया गया कि सांसद राहुल गांधी का दौरा चार से छह अक्टूबर के बीच प्रस्तावित है. हालांकि पांच अक्टूबर को कई जगहों पर दुर्गा पूजा एवं दशहरे का समापन होता है.

पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस के नेता अखिलेश सिंह ने कहा कि भाजपा की सरकार राहुल को अमेठी जाने से रोकने के हथकंडे अपना रही है. उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश सरकार को आशंका है कि राहुल जनता से सीधे तौर पर जुड़े मुद्दे उठाएंगे. भाजपा भयभीत है. सिंह ने कहा कि सरकार को शायद चिन्ता है कि राहुल के दौरे से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी और स्मृति ईरानी की दस अक्टूबर को प्रस्तावित अमेठी यात्रा पर ग्रहण लग सकता है. उन्होंने कहा कि चार अक्टूबर तक आम तौर पर सभी त्यौहार समाप्त हो जाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *